Hindi Stories, poems and much more
कोई कौम अपनी जबान के बगैर अच्छी तालीम नहीं हासिल कर सकती। - सैयद अमीर अली 'मीर'।

Find Us On:

English Hindi
Loading

Archive of जुलाई-अगस्त 2020 Issue

जुलाई-अगस्त 2020

भारत-दर्शन से जुड़ें : फेसबुक  - ट्विटर

स्वतंत्रता दिवस पर शुभकामनायें !

स्वतंत्रता दिवस पर हम आपको 'वन्दे मातरम्' के विभिन्न संस्करणों से परिचित करवा रहे हैं, आइए पढ़ें -- वन्दे मातरम्! आज़ादी पर कुछ अन्य उत्कृष्ठ रचनाएं !

शहीदों से संबंधित सामग्री भी देखें।

भारत-दर्शन का नया अंक आपको भेंट।

इस अंक में पढ़िए गीत, ग़ज़लें, कविताएं, हाइकु, कहानियां, लघु-कथाएं, बाल-साहित्य व आलेख।

पढ़िए 'रक्षा-बंधन' की पौराणिक कथाएँ, रक्षाबंधन के ऐतिहासिक प्रसंग, साहित्यिक संदर्भ, इसका इतिहास और रक्षा-बंधन पर कविता।

यह अंक 15 उपन्यास, 300 से अधिक कहानियाँ, 3 नाटक, 10 अनुवाद, 7 बाल पुस्तकें तथा हजारों पृष्ठों के लेख, भाषण, सम्पादकीय, भूमिकाएं व पत्र इत्यादि की रचना करने वाले प्रेमचंद की भी चर्चा करता, स्वतंत्रता के लिए अपने प्राण न्यौछावर कर देने वाले वीरों को याद करता है और हिंदी की कथा-कहानी की सुध लेता है।  

यहाँ प्रेमचंद का विविध साहित्य प्रकाशित किया गया है। प्रेमचंद की कहानियों में उनकी लोकप्रिय कहानियां प्रकाशित की गई हैं।

इस अंक में स्वतंत्रता-दिवस से संबंधित रचनाओं को भी प्रमुखता से प्रकाशित किया गया है जिनमें सम्मिलित हैं कविताएँ, कहानियाँ व बाल-साहित्य।

रक्षा-बंधन से संबंधित सामग्री यहाँ पढ़ें।

कथा-कहानी के अतिरिक्त पढ़िए कविताएँदोहेग़ज़लेंआलेखव्यंग्यलघु-कथाएं व बाल-साहित्य

"दुश्मन की गोलियों का, हम सामना करेंगे।
आज़ाद ही रहे हैं, आज़ाद ही मरेंगे॥"

उपरोक्त उद्घोष करने वाले चंद्रशेखर आज़ाद केवल एक क्रांतिकारी ही नहीं बल्कि महामानव भी थे। पं० चंद्रशेखर आज़ाद की जयंती 23 जुलाई को होती है, आइए उन्हें याद करें।

गुलेरी जी की कविताएं भी उनकी कहानियों से कम नहीं, उनकी कविता 'सोऽह' के तेवर देखिए -

करके हम भी बी० ए० पास
हैं अब जिलाधीश के दास ।
पाते हैं दो बार पचास
बढ़ने की रखते हैं आस ॥१॥

 

भारत-दर्शन का पूरा अंक पढ़ें। 

 

सर एडमंड हिलेरी जयंती विशेष 

सर एडमंड हिलेरी से रोहित कुमार 'हैप्पी' की बातचीत पढ़िए।  यह साक्षात्कार 2007 में लिया गया था।


आशा है पाठकों का स्नेह मिलता रहेगा। आप भी भारत-दर्शन में प्रकाशनार्थ अपनी रचनाएं भेजें। हिंदी लेखकों व कवियों के चित्रों की श्रृँखला भी देखें। यदि आप के पास हिंदी साहित्यकारों के दुर्लभ चित्र उपलब्ध हों तो अवश्य प्रकाशनार्थ भेजें। इस अनूठे प्रयास में अपना सहयोग दें।

उपरोक्त सामग्री के अतिरिक्त  आप भारत-दर्शन के समग्र संचयन में भी कहानीलघु-कथाएंकविताएं व बाल-साहित्य पढ़ सकते हैं जिनमें पत्रिका में प्रकाशित अभी तक प्रकाशित/अप्रकाशित सामग्री सम्मिलित है।


Links: 

Hindi Stories

Hindi Poems