समस्त भारतीय भाषाओं के लिए यदि कोई एक लिपि आवश्यक हो तो वह देवनागरी ही हो सकती है। - (जस्टिस) कृष्णस्वामी अय्यर

Find Us On:

Find Bharat-Darshan on Facebook
English Hindi
1 / 3
2 / 3
3 / 3
Loading

मार्च-अप्रैल 2020

मार्च-अप्रैल 2020

भारत-दर्शन से जुड़ें : फेसबुक  - ट्विटर

कोरोना वायरस के संबंध में भारत के प्रधानमंत्री का राष्ट्र के नाम संबोधन। 

23 मार्च 'भगतसिंह, सुखदेव व राजगुरू' का बलिदान-दिवस होता है। उन्हीं की स्मृति में शहीदी-दिवस को समर्पित विशेष सामग्री प्रकाशित की गई है।

इस अंक में 'कथा-कहानी' के अंतर्गत  कहानियाँलघु-कथाएं व बाल कथाएं। इस अंक के काव्य  में सम्मिलित है - कविताएंदोहेभजनबाल-कविताएंहास्य कविताएं व गज़ल

सदैव की भांति काव्य में गीत, दोहे, कविताएं, ग़ज़लें व हास्य-काव्य प्रकाशित किया गया है। 

महादेवी वर्मा का जन्म-दिवस 26 मार्च को होता है, वैसे वे होली के दिन ही पैदा हुई थीं। अन्य भारतीय उत्सवों की तरह होली के साथ भी विभिन्न पौराणिक कथाएं जुड़ी हुई हैं। यहाँ विभिन्न कथाओं को उद्धृत किया गया है। पढ़िए 'होली की पौराणिक कथाएं'।

भारत-दर्शन के इस अंक में एक बार फिर न्यूज़ीलैंड, ऑस्ट्रेलिया और फीजी के हिंदी साहित्य को प्रकाशित किया जा रहा है। 

इस बार न्यूज़ीलैंड से प्रीता व्यास, पुष्पा भारद्वाज-वुड, सुनीता शर्मा, माधवी श्रीवास्तवा की कविताएं, रोहित कुमार हैप्पी का काव्य और आलेख प्रकाशित किए गए हैं। 

ऑस्ट्रेलिया की भावना कुंवर, प्रगीत कुंवर, अब्बास रजा अल्वी और विजय कुमार सिंह की रचनाएं सम्मिलित की हैं।   

इस अंक में अमरीका से अनूप भार्गव के मुक्तक पठनीय हैं। 

Our News