अंग्रेजी के माया मोह से हमारा आत्मविश्वास ही नष्ट नहीं हुआ है, बल्कि हमारा राष्ट्रीय स्वाभिमान भी पददलित हुआ है। - लक्ष्मीनारायण सिंह 'सुधांशु'।

Find Us On:

English Hindi
Loading
चित्र-दीर्घा :   Hindi-Authors

सूर्यकांत त्रिपाठी 'निराला'

मुँशी प्रेमचंद | Munshi Premchand

हिंदी संत कवि कबीरदास

संत कवि सूरदास

गुरु रवीन्द्रनाथ टैगोर

सुभद्राकुमारी चौहान

यशपाल का चित्र

कवि प्रदीप