राष्ट्रभाषा के बिना आजादी बेकार है। - अवनींद्रकुमार विद्यालंकार

Find Us On:

English Hindi
Loading
हास्य कथा-कहानी-व्यंग
हास्य कथा-कहानी-व्यंग संकलन। A collection of hilarious Hindi satirical comedy stories.

Articles Under this Category

गधे से सीख  - लोक साहित्य

एक शाम की बात है। मुल्ला नसरुद्दीन अपने घर की छत पर चढ़े और चारों ओर का नज़ारा देखा। उनको लगा कि इतनी ख़ूबसूरत शाम है, तो क्यों न अपने गधे को भी छत पर ले आया जाए। इन नज़ारों का लुत्फ़ बेचारा गधा भी ले ले।
...