भारत की परंपरागत राष्ट्रभाषा हिंदी है। - नलिनविलोचन शर्मा।

Find Us On:

English Hindi
Loading

बच्चों की कविताएं

यहाँ आप पाएँगे बच्चों के लिए लिखा बाल काव्य जिसमें छोटी बाल कविताएं, बाल गीत, बाल गान सम्मिलित हैं।

Article Under This Catagory

अगर कहीं मैं पैसा होता ?  - सोहनलाल द्विवेदी | Sohanlal Dwivedi

पढ़े-लिखों से रखता नाता,
मैं मूर्खों के पास न जाता,

 
हो हो होली - होलिका नन्द

हो हो होली
कैसी होली आई, धूल है खूब उड़ाई ;
कैसी होली---

 
डर भी पर लगता तो है न | बाल कविता - दिविक रमेश

चटख मसाले और अचार
कितना मुझको इनसे प्यार!
नहीं कराओ इनकी याद
देखो देखो टपकी लार।

 
हमारा वतन दिल से प्यारा वतन  - चकबस्त

ये हिन्दोस्तां है हमारा वतन
मुहब्बत की आँखों का तारा वतन
हमारा वतन दिल से प्यारा वतन

 

 

सब्स्क्रिप्शन

इस अंक में

 

इस अंक की समग्र सामग्री पढ़ें

 

 

सम्पर्क करें

आपका नाम
ई-मेल
संदेश