देवनागरी ध्वनिशास्त्र की दृष्टि से अत्यंत वैज्ञानिक लिपि है। - रविशंकर शुक्ल।

Find Us On:

English Hindi
Loading
अमिता शर्मा की क्षणिकाएं  (काव्य) 
Click to print this content  
Author:अमिता शर्मा

कवि

कवि तुम
कुम्हार हो क्या?
धरते रहते हो चाक पर
अपनी पराई पीड़ाएं
और गढ़ जाती हैं
कविताएं ।

- अमिता शर्मा

#

 

अतिथि सत्कार

अतिथि सत्कार का,
अनुभव है 'लेटैस्ट'।
भूत समझकर चीख पड़े,
देख लिए जब 'गेस्ट'।

- अमिता शर्मा

Previous Page  |   Next Page

Comment using facebook

 
 
Post Comment
 
Name:
Email:
Content:
Type a word in English and press SPACE to transliterate.
Press CTRL+G to switch between English and the Hindi language.