जिस देश को अपनी भाषा और अपने साहित्य के गौरव का अनुभव नहीं है, वह उन्नत नहीं हो सकता। - देशरत्न डॉ. राजेन्द्रप्रसाद।

Find Us On:

English Hindi
साहित्य अकादमी 2015 पुरस्कारों की घोषणा (विविध) 
   
Author:भारत-दर्शन संकलन


नयी दिल्ली, 17 दिसंबर 2015: हिंदी के वरिष्ठ लेखक रामदरश मिश्र सहित 23 भारतीय भाषाओं के लेखकों को इस बार साहित्य अकादमी पुरस्कार दिए जाने की घोषणा की गयी है। वरिष्ठ हिंदी लेखक रामदरश मिश्र को यह पुरस्कार उनके कविता-संग्रह 'आग की हँसी पर' दिया जा रहा है।

छह कविता- संग्रह, छह कहानी-संग्रह, चार उपन्यास, दो निबंध-संग्रह, दो नाटक, दो समालोचना और एक संस्मरण के लिए साहित्य अकादमी पुरस्कारों की घोषणा की गई है। बांग्ला का पुरस्कार बाद में घोषित किया जाएगा ।

कविता-संग्रहों के लिए पुरस्कृत 6 कवि हैं - ब्रजेन्द्र कुमार ब्रह्म (बड़ो), ध्यान सिंह (डोगरी), रामदरश मिश्र (हिन्दी), के. वी. तिरुमलेश ( कन्नड), क्षेत्री राजन (मणिपुरी) और राम शंकर अवस्थी संस्कृत ।

कहानी-संग्रहों के लिए पुररकृत 6 कहानीकार हैं - कुल सेइकिया ( असमिया), मनमोहनझा (मैथिली), गुप्त प्रधान (नेपाली), विभूति पट्टनायक (ओड़िया), माया राही सिन्धी) और वोल्गा (तेलुगु) ।

साइरस मिस्त्री (अंग्रेज़ी), के. आर. मीरा ( मलयाळम्), जसविन्दर सिंह (पंजाबी) और मधु आचार्य 'आशावादी' (राजस्थानी) को उनके उपन्यास हेतु पुरस्कृत किया गया ।

रसिक शाह (गुजराती) और ए. माधवन (तमिल) को उनके निबंध के लिए और उदय भेंब्रे (कोंकणी), रबिलाल टुडू (संताली) को नाटक के लिए तथा बशीर भद्रवाही (कश्मीरी), शमीम तारिक (उर्दू) को समालोचना के लिए और अरुण खोपकर ( मराठी) को संस्मरण के लिए पुरस्कृत किया गया ।

पुरस्कारों की अनुशंसा 23 भारतीय भाषाओं की निर्णायक समितियों द्वारा की गई तथा साहित्य अकादेमी के अध्यक्ष श्री विश्वनाथ प्रसाद तिवारी की अध्यक्षता में आयोजित अकादमी के कार्यकारी मंडल की बैठक में इन्हें अनुमोदित किया गया ।

इन पुस्तकों को त्रि-सदस्यीय निर्णायक मंडल ने निर्धारित चयन प्रक्रिया का पालन करते हुए पुरस्कार के लिए चयनित किया है । नियमानुसार कार्यकारी मंडल ने निर्णायकों के बहुमत के आधार पर अथवा सर्वसम्मति के आधार पर चयनित पुस्तकों के लिए पुरस्कारों की घोषणा की। पुरस्कार 1 जनवरी 2009 से 31 दिसम्बर 2013 के दौरान पहली बार प्रकाशित पुस्तकों पर दिया गया है।

साहित्य अकादमी पुरस्कार के रूप में एक ताम्रफलक, शॉल और एक लाख रुपये की राशि प्रदान करेगी । घोषित पुरस्कार 16 फरवरी 2०16 को नई दिल्ली में आयोजित एक विशेष समारोह में दिए जाएँगे ।

[भारत-दर्शन समाचार]

 

Previous Page  |  Index Page  |   Next Page

Comment using facebook

 
 
Post Comment
 
Name:
Email:
Content:
Type a word in English and press SPACE to transliterate.
Press CTRL+G to switch between English and the Hindi language.
 
 

सब्स्क्रिप्शन

सर्वेक्षण

भारत-दर्शन का नया रूप-रंग आपको कैसा लगा?

अच्छा लगा
अच्छा नही लगा
पता नहीं
आप किस देश से हैं?

यहाँ क्लिक करके परिणाम देखें

इस अंक में

 

इस अंक की समग्र सामग्री पढ़ें

 

 

सम्पर्क करें

आपका नाम
ई-मेल
संदेश