हिंदी को तुरंत शिक्षा का माध्यम बनाइये। - बेरिस कल्यएव
क्षणिकाएं
क्षणिकाएं

Articles Under this Category

दो क्षणिकाएँ    - मंगलेश डबराल

शब्द
...

दो क्षणिकाएँ - नवल बीकानेरी

पाँव के नीचे से 
निकल गई 
एक छोटी सी कीड़ी,
बड़ी-सी बात कहकर 
कि
मारने वाले से 
बचाने वाला बड़ा है। 
...

सब्स्क्रिप्शन

इस अंक में

 

इस अंक की समग्र सामग्री पढ़ें

 

 

सम्पर्क करें